कोई भी आदमी वैसा ही होता है, जैसे उसके विचार होते हैं। Koi bhi aadami vaisa hi Kota hai Jaise Uske vichar hote Hain.

अपने सफलता के अभियान की शुरुआत इस सच्चे, संजीदा विश्वास से कीजिए कि आप सफल हो सकते हैं। अगर आपको यकीन है कि आप महान बन सकते हैं तो आप सचमुच महान बन जाएंगे।

अपने आप में विश्वास कीजिए और आपके साथ अच्छी घटनाएं होने लगेगीं।

आपका दिमाग “विचारों की फैक्ट्री” है। यह एक व्यस्त फैक्ट्री है जो एक दिन में अनगिनत विचारों का उत्पादन करती है।

जो लोग अवसर का भरपूर लाभ उठाते हैं वह ऐसे समझदार लोग होंगे जो यह सीख लेंगे कि बड़े सोच के सहारे खुद को सफलता के रास्ते पर किस तरह ले जाया जा सकता है।

सफलता की तरफ यह आप का पहला कदम होगा।

१) सफलता की बातें सोचें, असफलता की बात ना सोचे।

२) अपने आपको बार-बार याद दिलाएं कि आप जितना समझते हैं आप उससे कहीं बेहतर हैं।

३) बड़ी सोच में विश्वास करें। आपकी सफलता का आकार कितना बड़ा होगा, यह आपके विश्वास के आकार से तय होगा।

अपने को सिखाने का जिम्मा आप ही का है। कोई दूसरा आदमी आपके सिर पर खड़ा रहकर आपको यह नहीं बताएगा कि आपको क्या करना है, और कैसे करना है। आप और केवल आप ही खुद को समझ सकते हैं। केवल आप ही अपनी प्रगति का मूल्यांकन कर सकते हैं। जब आप अपने रास्ते से थोड़ा सा भटक जाएं, तो केवल आप ही अपनी गलती सुधार कर सही रास्ते पर आ सकते हैं। सौ बात की एक बात, आपको ही खुद को इस काबिल बनाना है कि आप बड़ी से बड़ी सफलता हासिल कर सकें ।

अधिक जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग्स्पॉट वेबसाइट पर जाएं।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s